June 22, 2024

संवाददाता।
कानपुर। नगर में साढ़ के बेहटा में बुजुर्ग गांव में बेटी के निकाह के कुछ घंटे पहले पिता की तबियत बिगड़ी। परिजन पिता को लेकर भीतरगांव सीएचसी पहुंचे, जहां डाक्टर ने पिता को मृत घोषित कर दिया। पिता की मौत की सूचना घर पर पहुंचते ही खुशियां मातम में बदल गईं। देर शाम को पिता के शव को गांव बाहर कब्रिस्तान में रीति-रिवाज के साथ सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया। साढ़ थाना क्षेत्र के बेहटा-बुजुर्ग गांव निवासी मोहम्मद अनवर उर्फ टिल्लू मेहनत मजदूरी करके अपने परिवार का भरण पोषण करता था। अनवर के दो बेटियां आसिया और सूफिया तथा दो पुत्र अरमान और ईशान हैं। बड़ी बेटी आसिया की शादी कानपुर के जाजमऊ में तय हुई थी। सोमवार को आसिया के निकाह के दिन घर परिवार में खुशियों का माहौल था। तभी दोपहर बाद पिता अनवर की अचानक तबियत बिगड़ी। तीन चार उल्टियों के बाद मुंह और गला सूखने लगा, इस पर ग्रामीण और रिश्तेदार अनवर को भीतरगांव सीएचसी ले गए, जहां डाक्टर ने अनवर को मृत घोषित कर दिया। पिता अनवर के मौत की सूचना जब घर पहुंची तो कोहराम मच गया। हाथों में मेंहदी से लगाए बैठी बेटी आसिया बिलख बिलख कर रो पड़ी। सूचना जब तक लड़के पक्ष को दी जाती तब तक दूल्हे के साथ आधी बारात गांव आ चुकी थी। दोनों परिवार घटना के बाद से गमगीन रह गए। आस-पास जिसने भी सुना वह अपनी आंखों के आंसू नहीं रोक नहीं सका।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *