June 22, 2024

संवाददाता।

कानपुर। नगर में आज देर रात बदमाशों ने गुजरात से लौट रहे एक युवक को घाटमपुर में जबरन खींचकर कार में बैठा लिया। तकरीबन 12 किमी दूर ले जाकर उससे लूटपाट की और साढ़ थाना क्षेत्र में हाथ-पैर बांधकर खंती में फेंककर फरार हो गए। लूट का शिकार युवक गुजरात प्रांत के अंकलेश्वर में दवा फैक्ट्री में नौकरी करता था। हमीरपुर के दो अन्य सहकर्मियों के साथ घर लौट रहा था। इसी दौरान बदमाशों ने घटना को अंजाम दिया। लूट का शिकार युवक बेहोशी हालत में हाथ-पैर बंधा पड़ा मिला। भदेवना गांव निवासी जगदीश कुशवाहा खेती किसानी करते हैं। घर पर चार लड़कों में तीन ललित, सुमित और अमित गुजरात में दवा फैक्ट्री में प्राइवेट नौकरी करते हैं। सबसे बड़ा लड़का ललित कुशवाहा (30 वर्ष) रविवार को घर लौट रहा था। उसके साथ हमीरपुर के भरुआ-सुमेरपुर निवासी दो अन्य सहकर्मी भी थे। बस सवार तीनों युवकों में ललित घाटमपुर में उतर गया। बाकी दोनों युवक उसी बस से हमीरपुर निकल गये। घाटमपुर में उतरते ही ललित को कार सवार बदमाशों ने जबरन घसीटकर अंदर डाल लिया। इसी बीच ललित ने घर में फोनकर कुछ लोगों द्वारा जबरन कार के अंदर डाल लेने की बात कही। फिर फोन स्विच ऑफ हो गया। इसके बाद परिजन घाटमपुर कोतवाली पहुंचे। बदमाश नगदी और अन्य सामान लूटने के बाद ललित को 12 किमी दूर साढ़ थाना क्षेत्र के रायपुर गांव किनारे आम के बगीचे में शर्ट से हाथ पैर बांधने के साथ चेहरे में बनियान लपेट कर फेंक कर फरार हो गए। खेतों में पानी लगाने जा रहे रायपुर के ग्रामीणों को खंती में रोने की आहट मिली तो टार्च जलाकर देखा तो युवक बंधा पड़ा दिखा। गांव वालों ने ललित के हाथ पर खोले और पुलिस को सूचना दी। साढ़ थाना प्रभारी सुधीर कुमार ने बताया कि युवक बेहोशी की हालत में खंती में पड़ा मिला था। पुलिस को कुछ बता नहीं पा रहा है। युवक को अस्पताल पहुंचाया गया है। युवक के पास खाली बैग और पर्स मिली है। युवक के होश में आने के बाद घटना की पूरी जानकारी हो पाएगी। तब मामले का खुलासा होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *