June 22, 2024

कानपुर। उत्तर प्रदेश में बंगाल की खाड़ी से आ रही नम हवाएं से हल्की बारिश जिससे तापमान में कमी आई, लेकिन अब यह हवाएं आना बंद हो गई। इससे आसमान साफ हो गया और सूरज के तल्ख तेवर फिर देखने को मिल रहे हैं। मौसम विभाग का कहना है कि आगामी दिनों मानसून आने तक तापमान बढ़ेगी और लू की स्थिति बनी रहेगी।चन्द्रशेखर आजाद कृषि प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डॉ. एस एन सुनील पाण्डेय ने शनिवार को बताया कि अगले 24 घंटों के दौरान तटीय कर्नाटक, दक्षिणी मध्य महाराष्ट्र और दक्षिणी कोंकण और गोवा में मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी से अति भारी बारिश की संभावना है। केरल, लक्षद्वीप, मराठवाड़ा और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश की संभावना है।सिक्किम, पूर्वोत्तर भारत, दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक, उत्तरी आंतरिक कर्नाटक और तमिलनाडु के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। ओडिशा, दक्षिणी गुजरात, राजस्थान, मध्य प्रदेश विदर्भ छत्तीसगढ़ और पश्चिमी हिमालय के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश की संभावना है। पश्चिमी राजस्थान, पूर्वी राजस्थान, पंजाब और हरियाणा के कुछ हिस्सों में धूल भरी आंधी के साथ गरज के साथ छींटे पड़ सकते हैं। दिल्ली और आसपास के इलाकों में धूल भरी आंधी के साथ हल्की बारिश की संभावना है। पूर्वोत्तर मध्य प्रदेश, झारखंड, पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, बिहार और ओडिशा के कुछ इलाकों में लू की स्थिति बन सकती है।बताया कि कानपुर में अधिकतम तापमान 43.4 और न्यूनतम तापमान 29.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। सुबह की सापेक्षिक आर्द्रता 34 और दोपहर की सापेक्षिक आर्द्रता 19 प्रतिशत रही। हवाओं की दिशाएं दक्षिण पश्चिम रहीं जिनकी औसत गति 6.1 किमी प्रति घंटा रही। मौसम पूर्वानुमान के अनुसार अगले पांच दिनों में हल्के बादल छाए रहने के आसार हैं किन्तु वर्षा की कोई संभावना है। दिन और रात के तापमान सामान्य से अधिक रहने के आसार हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *