July 20, 2024

छात्रा ने आशिकी बघारने वाले टीचर पर लगाए कई संगीन आरोप।

कानपुर। कल्याणपुर क्षेत्र में लव जिहाद के मामले में पकडे गए युवक टीचर पर किशोरी छात्रा ने संगीन आरोप लगाते हुए अपने बयान में कहा कि नौशाद पढ़ाई के बहाने उसे अपने घर ले जाता था। इसके बाद उसके साथ दुष्कर्म करता था। नौशाद ने उसका धर्मांतरण भी कराने की कोशिश की थी वह उसे  मुंबई ले जाकर निकाह की तैयारी में भी लगा था। आरोपी टीचर किशोरी को लेकर फरार हो गया था जिन्हे  कल्याणपुर स्टेशन पर हिन्दू संगठनों के कार्यकर्ताओं ने पकड कर पुलिस के हवाले कर दिया था।  पुलिस ने आरोपी पर रेप समेत अन्य धाराओं में एफआईआर  दर्ज की। छात्रा का मेडिकल कराया जा रहा है। उसका मजिस्ट्रेट बयान दर्ज कराया जाएगा।

गौरतलब है कि चौबेपुर थाना क्षेत्र में रहने वाली महिला के पति का निधन हो चुका है। उन्होंने बताया कि मेला रोड हकीम नगर निवासी नौशाद अहमद उनकी बेटी को ट्यृशन पढ़ाता था। 27 जून की दोपहर 3 बजे उनकी बेटी को बहला-फुसला कर अपने साथ ले जा रहा था। गनीमत रही कि कल्याणपुर रेलवे स्टेशन पर बजरंग दल के एक कार्यकर्ता की नजर पड़ गई और उसे पकड़ लिया। पहले आरोपी को कल्याणपुर पुलिस के हवाले किया गया। इसके बाद चौबेपुर पुलिस ने ट्यूशन टीचर को कस्टडी में ले लिया। मामले की जांच की गई, तब सामने आया कि ट्यूशन टीचर नौशाद छात्रा के साथ गलत काम कर रहा था। बजरंग दल ने हंगामा-बवाल किया तो नौशाद के खिलाफ गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की गई। छात्रा ने अपने बयान में पुलिस को बताया-नौशाद सर घर में पढ़ाने आते थे। पहले वो गलत तरीके से छूते थे। इसके बाद उनकी हरकत बढ़ती गई। कहते थे पढ़ाई में कमजोर हो। वो मुझे डराने धमकाने लगे। फिर वो मेरे साथ गलत काम करने लगे। पढ़ाई के बहाने अपने घर ले जाते थे। इसके बाद वहां पर मेरे साथ गंदा काम करते थे। मैंने उनसे कहा कि ऐसा न करो, तो कहते थे कि मुझे बदनाम कर देंगे। छात्रा ने बताया- नौशाद सर मुझसे कहते थे कि उनका धर्म बहुत अच्छा है। मैं अगर उनके साथ जाऊंगी तो अच्छा होगा। इसके बाद 27 जून को मुझे धमकाने लगे। बोले चलो मेरे साथ चलो। पहलो वो मुझे अपने घर ले गए। इसके बाद मस्जिद। वहां कुछ पढ़वाया गया, मेरा धर्म बदलवाने की बात हुईं। फिर मेरे साथ गलत काम किया गया। बकौल पुलिस छात्रा ने बताया- भगाने से लेकर धर्मांतरण में सिर्फ नौशाद ही नही, उसके पिता बसीकदीन, भाई शहंशाह, भाभी करिश्मा समेत अन्य परिवार के लोगों को पूरे मामले की जानकारी थी। परिवार के लोगों ने इसमें नौशाद का सहयोग भी किया। इसके बाद उसे अपने साथ मुंबई लेकर भागने की फिराक में था। चौबेपुर से बस से कल्याणपुर स्टेशन पहुंचा। यहां से ट्रेन पकड़कर लखनऊ और फिर मुंबई भागने की फिराक में था।

फ़ोटो। 1 बवाल करते बजरंगदल कार्यकर्ता।

2 आरोपी टीचर नौशाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related News