June 21, 2024

संवाददाता।
कानपुर। नगर में ईद की नमाज को लेकर कानपुर की बड़ी ईदगाह कमेटी ने बड़ा फैसला किया है। इस बार इतिहास में पहली बार ऐसा होगा की ईद की नमाज दो शिफ्टों में अदा की जाएगी। इसके लिए कमेटी के लोगों ने अवाम से अपील भी की है। कमेटी के सदस्य और जिम्मेदारों ने कहा है की सरकार और कोर्ट की गाइडलाइन के मुताबिक सड़क पर नमाज ना हो इसलिए यह फैसला किया गया है। इससे पहले बीते साल ईद की नमाज के बाद सड़क पर नमाज़ पढ़े जाने के बाद कई FIR दर्ज हुई थी। इसलिए लोगों पर कार्रवाई न हो, इससे बचा जा सके। इसलिए इस बार ईद की नमाज ईदगाह के अंदर ही पढ़ी जाएगी। कोई भी सड़क पर नमाज ना पढ़े, इसलिए यह फैसला कमेटी की तरफ से लिया गया है कि ईद की नमाज दो शिफ्टों में अदा की जाएगी। शहर की बेनाझावर स्थित बड़ी ईदगाह कमेटी ने फैसला किया है। पहली शिफ्ट की नमाज सुबह 8 बजे होगी। जिसमें इमाम मौलाना शकील होंगे। जो ईद की नमाज अदा कराएंगे। दूसरी शिफ्ट की नमाज सुबह 9:30 बजे होगी। इस नमाज की इमाम मुफ्ती सुभान इलाही ईद की नमाज अदा कराएंगे बड़ी ईदगाह कमेटी के सदस्य शारीरिक नवाब ने बताया की इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है कि ईद की नमाज दो शिफ्ट में अलग-अलग अदा की जाएगी। इसका फैसला ईदगाह कमेटी के मेंबरों और जिम्मेदारों ने मिलकर किया है। कानपुर की मरकजी ईदगाह कमेटी के मेंबर मुतवल्ली और जिम्मेदार पदाधिकारी ने मिलकर दो शिफ्टों में नमाज कराया जाने का फैसला किया है। इनमें आयाज आलम जफर मुतवल्ली बड़ी ईदगाह और मोहम्मद इमरान जनरल सेक्रेटरी ईदगाह कमेटी इसके साथ ही सदस्य मोहम्मद कामरान और शारिक़ नवाब ने एक अहम बैठक करके ईद की नमाज को अलग-अलग शिफ्टों में किए जाने का फैसला किया। बीते साल ईद की नमाज के बाद सड़क पर नमाज़ पढ़े जाने को लेकर के कार्रवाई की गई थी। सैकड़ों लोगों पर FIR दर्ज की गई थी। इसलिए ईदगाह कमेटी ने सड़क पर नमाज ना हो इसलिए नमाज को दो शिफ्टों में कराए जाने का फैसला किया गया है। शहर की बेनाझावर स्थित बड़ी ईदगाह में लाखों लोग एक साथ ईद की नमाज अदा करते हैं। बड़ी ईदगाह कमेटी के आंकड़ों की बात की जाए तो तकरीबन 4 से 5 लाख लोग एक साथ ईद की नमाज अदा करने पहुंचते हैं। इसलिए ईदगाह पूरी तरह से भर जाती है और लोग सड़क पर बैठ जाते हैं। इसलिए ईद की नमाज को दो शिफ्टों में कराए जाने का फैसला किया गया। ईदगाह कमेटी के सदस्य शारिक नवाब ने कहा कि सरकार की जो भी गाइडलाइन है। उसका पूरी तरह से पालन किया जाएगा। कमेटी ने इसीलिए फैसला लिया है। इसके साथ ही कोर्ट का भी आदेश है कि सड़क पर नमाज ना हो तो पूरी तरह से उस पर अमल किया जाएगा। ईदगाह कमेटी के सदस्य शारीरिक नवाब ने बताया की कमेटी के वालंटियर इंतजाम में लगे रहते हैं। कमेटी के ही वालंटियर ही नमाज पढ़ने आए लोगों को सड़क पर बैठने से रोकेंगे। इसके साथ ही जिला प्रशासन के द्वारा भी सहयोग मिलेगा। जिससे लोगों को सड़क पर नहीं बैठने दिया जाएगा। बड़ी ईदगाह कमेटी बेनाझावर ने कानपुर की मुस्लिम आवाम से अपील की है। कि लोग कहीं पर भी सड़क पर नमाज न अदा करें। जो लोग ईदगाह में भी आए हैं। वह लोग केवल ईदगाह के अंदर ही नमाज अदा करें। इसके बाद जब दूसरी शिफ्ट में ईद की नमाज हो तो बाकी के बच्चे लोग उस नमाज में अपनी नमाज को अदा करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related News