?> गैंगस्टर की पैरवी के लिए थाने पहुँचे विधायक  से थानेदार की  झड़प। » Azad Samachar

गैंगस्टर की पैरवी के लिए थाने पहुँचे विधायक  से थानेदार की  झड़प।

संवाददाता।
कानपुर। नगर के बिल्हौर से बीजेपी विधायक राहुल बच्चा सोनकर गैंगस्टर की पैरवी के लिए पहुंचे जहां थानेदार से झड़प हुई और फिर डीसीपी से पैरवी करने पहुंच गए। भाजपा विधायक दावा कर रहे हैं कि पुलिस ने गैंगस्टर को फर्जी तमंचा लगाकर जेल भेजा है। वह नौकरी पर गया था, पुलिस ने पूछताछ के लिए बुलाया और अपने पास से तमंचा-कारतूस लगाकर जेल भेज दिया। डीसीपी ने कहा कि मामले की जांच की जाएगी। चौबेपुर थाना क्षेत्र के खरगपुर में रहने वाला रानू उर्फ जगत सिंह बिठूर थाने का हिस्ट्रीशीटर व गैंगस्टर है। चौबेपुर पुलिस ने 16 नवम्बर 2023 को आर्म्स एक्ट में गिरफ्तार कर जेल भेजा था। उसके पास से पुलिस ने तमंचा और दो कारतूस बरामद किए। मामले में रानू के करीबी अभिषेक के साथ बिल्हौर से भाजपा विधायक राहुल बच्चा सोनकर शुक्रवार को डीसीपी वेस्ट विजय ढुल से शिकायत करने पहुंचे। विधायक का आरोप है कि 16 नवम्बर को रानू अपने काम से लौट रहे थे। तभी थाने में तैनात एसआई पंकज कुमार ने फोन करके थाने बुलाया। शाम लगभग साढ़े पांच बजे वह थाने पहुंचा। उसका टिफिन, स्कूटर समेत अन्य सामान पुलिस ने मिलने वाले को दे दी और कहा कि इसे आने में थोड़ा समय लगेगा। तुम जाओ। उसी रात पुलिस ने साढ़े 11 बजे उसके पास से तमंचा और कारतूस बरामद कर चालान कर दिया। पुलिस ने दावा किया कि उसे तमंचा लहराते हुए हाईवे से अरेस्ट किया है। डीसीपी वेस्ट विजय ढुल ने बताया कि विधायक की शिकायत पर मामले का संज्ञान लिया गया है। विधायक ने मौखिक शिकायत की है, लेकिन कोई लिखित प्रार्थना-पत्र नहीं दिया है। प्रार्थना-पत्र मिलते ही पूरे मामले की जांच की जाएगी।रानू उर्फ जगत सिंह के खिलाफ सन् 2021 से 2023 के बीच आधा दर्जन अपराधिक मामले दर्ज हुए हैं। इसमें लूट, चोरी, लूट का माल बरामद होना, गुंडा और गैंगस्टर एक्ट शामिल है। रानू चौबेपुर थाने का हिस्ट्रीशीटर है जिसका नम्बर 22 बी है। गुंडा एक्ट की कार्रवाई 31 मई 2023 को हुई थी वहीं 23 अगस्त 2023 को जिला बदर की कार्रवाई हो चुकी है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *