?> कलक्टरगंज थाने के दरोगाओं की भूमिका की हो गहन जांच: सपा विधायक। » Azad Samachar

कलक्टरगंज थाने के दरोगाओं की भूमिका की हो गहन जांच: सपा विधायक।

संवाददाता।
कानपुर।
नगर में कलक्टरगंज थाना क्षेत्र में शुक्रवार देर रात गश्त के दौरान कलक्टरगंज थाने की पुलिस ने सपा कार्यकर्ता की खड़ी बाइक का चालान कर दिया और सपा कार्यकर्ता ने इस बात का विरोध किया तो उसे थाने उठा ले गए। आरोप यह भी है कि मामले की जानकारी पा कर युवक की माता जी थाने पहुँची तो पुलिस कर्मियों ने उनसे भी गाली गलौज की और उन्हें भगा दिया। मामले की जानकारी होने पर सपा विधायक ने समर्थकों के साथ थाने का घेराव किया। पुलिस अफसरों ने मामले की जांच का भरोसा दिलाया तब जाकर हंगामा शांत हुआ। सपा विधायक अमिताभ बाजपेई बोले-युवक को पहले पीटा और फिर मां के साथ पुलिस वालों ने थाने में गंदी-गंदी गालियां दी। पुलिस शुक्रवार देर रात इलाके में गश्त कर रही थी। इस दौरान सपा कार्यकर्ता आशुतोष चौरसिया की बाइक का चालान कर दिया। विरोध करने पर पीटा और थाने से उठा ले गए। आरोप है कि मामले की जानकारी मिलते ही आशुतोष की मां थाने पहुंची तो उन्हें भी पुलिस कर्मियों ने गाली-गलौज करके भगा दिया। मामले की जानकारी मिलते ही सपा विधायक अमिताभ बाजपेई कार्यकर्ताओं के साथ थाने पहुंचे और हंगामा काटा। उन्होंने पूरे मामले की जांच और आरोपी पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की मांग को लेकर अड़ गए। मामले की जानकारी मिलते ही थाना प्रभारी राम जनम गौतम और एसीपी निशंक शर्मा मौके पर पहुंचे। मामले की जांच के बाद आरोपी पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई का आश्वासन दिया तब जाकर हंगामा शांत हुआ। एसीपी निशंक शर्मा ने बताया कि मामले में जांच की जा रही है। अगर सपा नेताओं के आरोप सही पाए गए तो दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। पीड़ित परिवार और सपा नेता ने पहले तो सपा कार्यकर्ता से मारपीट और फिर उनकी मां से थाने में अभद्रता का आरोप लगाया। सपा विधायक अमिताभ बाजपेई ने कहा, थाने के सीसीटीवी फुटेज उन्हें दिखाए जाएं अगर ऐसा नहीं हुआ है तो। इस पर थाने की पुलिस बैकफुट पर आ गई और उन्हें थाने का सीसीटीवी फुटेज नहीं दिखाया। एसीपी कलक्टरगंज निशंक शर्मा ने कहा, जांच में सीसीटीवी फुटेज को भी शामिल किया गया है। अगर आरोप सही पाए गए तो कार्रवाई होगी। सपा विधायक अमिताभ बाजपेई ने बताया, ” कलक्टरगंज थाने के स्टाफ के गुंडागर्दी की शिकायतें हर रोज आ रही थीं। प्रतिदिन थाने के पुलिसकर्मी क्षेत्र में गुंडागर्दी करते है। आज भी एक नौजवान आशुतोष की बाइक का चालान उसके घर के नीचे से कर दिया। जब उसकी मां ने बताने की कोशिश की कि मेरे पति बीमार है। हम दवा लेकर आ रहे हैं तो बेटे के साथ दो दरोगाओं ने मारपीट की और उसे जीप में लादकर थाने ले गए। जब उसकी मां थाने पहुंची थी तो उसे भी गंदी-गंदी गालियां दीं। लड़के को बंदकर करियर खराब करने की धमकी दी। जबकि लड़का महाराष्ट्र की उप्र सरकार में कर्मचारी है। उसने अपनी बात बताने की कोशिश की तो दरोगाओं को उसकी बात इतनी नागवार गुजरी। इसके बाद उसे मार-मारकर बुरा हाल कर दिया। इसी मामले को लेकर थाने का घेराव किया था। सीओ कलक्टरगंज से मांग की है कि दरोगाओं की भूमिका की जांच कराने के बाद कार्रवाई की जाए। साथ ही कलक्टरगंज पुलिस की निरंकुश गतिविधियों पर भी रोक लगाई जाए।” 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *