June 22, 2024

संवाददाता।

कानपुर। नगर में नोट बदलवाने को लेकर एक बड़े गैंग का पता चला है। करेंसी बदलवाने वाला गैंग पुराने 2000 के नोटों को रिजर्व बैंक से बदलवाने के नाम पर लोगों को उसमें कमीशन देने का काम करता था। गरीब और जरूरतमंद लोग उसके इस गैंग के शिकार बन गए। पुलिस ने आज जब कोतवाली थाना क्षेत्र के अंतर्गत रिजर्व बैंक से करेंसी बदलवा रहे लोगों से पूछताछ की तो खुलासा हुआ की 2000 रुपए के नोट बदलवाने के नाम पर 300 रुपए की कमीशन दी जाती थी। पुलिस ने तकरीबन 70 लोगों को पकड़ लिया उनसे पूछताछ की गई, तो वह कोई सही जवाब नहीं दे सके। यहां तक उन्हें नोट बदलवाने के लिए किसने भेजा कोई भी नाम तक नहीं बता पा रहा है। कोतवाली पुलिस ने एक व्यक्ति को पकड़ कर हिरासत में कोतवाली ले गई। शहर के कोतवाली थाना क्षेत्र के अंतर्गत पुलिस ने रिजर्व बैंक के बाहर करेंसी बदलवाने आए लोगों को पकड़ लिया। पकड़े गए लोगों से पूछताछ की गई तो पता चला कि सभी 2000 के पुराने नोट को बदलने के लिए आए हुए थे। जिसके बदले उन्हें सिक्के मिल रहे थे। इसके लिए उन्हें एक आधार कार्ड लगाना होता था । इसके बदले उन्हें 300 रुपए का कमीशन दिया जाता था । पकड़े गए लोगों से पूछताछ में पता चला कि उन्हें 300 रुपए मिल जाते हैं। इसलिए वहां पर आकर 2000 के नोट बदलवाने आ जाते हैं। रिजर्व बैंक के पास ही एक शख्स मिलता था। जो उन्हें 20000 रुपए के नोट 2000 के नोट के बदले दे देता था। लेकिन जिस तरह से लोग यहां पकड़े गए हैं इससे अनुमान लगाया जा सकता है ,कि इसके पीछे कोई बड़ा गैंग काम कर रहा है जो 2000 रुपए के पुराने नोट खपाने का काम कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *