June 22, 2024

संवाददाता।
कानपुर। नगर मे नौतपा के 8वें दिन भी भीषण गर्मी पड़ी। शुक्रवार को कानपुर में अधिकतम तापमान 46.2 डिग्री दर्ज किया गया। जबकि 31 मई,1994 में 46 डिग्री दर्ज किया गया था। वहीं कानपुर में सुबह से ही कड़ी धूप छाई रही। सुबह का ही तापमान 32 डिग्री दर्ज किया गया।बाराबंकी में आज सुबह एक  दरोगा समेत 4 की मौत हो गई। आजमगढ़ में 24 घंटे में 8 लोगों ने दम तोड़ दिया। बलिया में पोलिंग बूथ पर खड़े-खड़े बुजुर्ग की जान चली गई। गाजियाबाद में सड़क पर चलते समय युवक गिरा और उसकी मौत हो गई। इन सभी घटनाओं के पीछे की वजह भीषण गर्मी बताई जा रही है। लेकिन ज्यादातर की आधिकारिक पुष्टि नहीं है। प्रदेश में 4 दिन में 211 लोगों की मौत हो चुकी है। प्रयागराज में भीषण गर्मी को देखते हुए सरकारी डॉक्टरों की छुट्‌टी कैंसिल कर दी गई। आज से कई जिलों में गर्मी से राहत मिलेगी। उमस परेशान करेगी। रात का तापमान अभी गर्म ही बना रहेगा। हीट इंडेक्स 58 तक पहुंच गया है। इसका असर शरीर पर बेहद विपरीत पड़ेगा। इसलिए अभी लापरवाही न करें। शरीर और चेहरे को ढक कर निकलें। दोपहर में बच्चे और बुजुर्ग घर से बाहर निकलने से बचें। कई जिलों को आज गर्मी से राहत मिली है। पूर्वी उत्तर प्रदेश के ज्यादातर जिलों का तापमान 40 डिग्री से नीचे बना हुआ है। हालांकि पश्चिम के आगरा, नोएडा और झांसी में आज भी गर्मी पड़ रही है। आगरा का पारा दोपहर साढ़े 12 बजे 45 डिग्री रिकॉर्ड हुआ। वहीं, नोएडा और झांसी का पारा 43 के ऊपर रिकॉर्ड हुआ है। बलिया में पोलिंग बूथ पर बुजुर्ग की मौत हो गई। 65 साल के चकबहाउद्दीन गांव निवासी राम बचन चौहान मतदान करने पहुंचे थे। लाइन में खड़े होने के बाद उन्हें चक्कर आया और गिर पड़े। जब तक लोग उन्हें अस्पताल ले जाते तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। डॉक्टरों का कहना है कि बुजुर्ग की मौत गर्मी की वजह से हुई है। गाजियाबाद में भीषण गर्मी पड़ रही है। शुक्रवार को 5 लोगों की मौत हो गई। गौशाला फाटक से एक युवक पैदल गुजर रहा था। अचानक वो नीचे गिरा और उसकी मौत हो गई। यहां पर गुरुवार को भी 4 लोगों की मौत हुई थी। ऐसा कहा जा रहा है कि इनकी मौत गर्मी से हुई है। हालांकि जिला प्रशासन इसकी पुष्टि नहीं कर रहा है। गर्मी पूरे ईस्ट यूपी में जानलेवा बनती जा रही है। वाराणसी में नौतपा के बीते 4 दिनों में 50 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। डॉक्टरों ने वजह हीट स्ट्रोक ही बताई, लेकिन स्वास्थ्य विभाग ने गर्मी से एक भी मौत की पुष्टि नहीं की है। वाराणसी में आज 20 किलोमीटर की रफ्तार से हवा चल रही है। नमी 80% से भी ज्यादा है। इस वजह से आज हर सेकेंड पसीना निकल रहा। आज भी सुबह से ही गर्मी का एहसास हो रहा है। प्रयागराज में भीषण गर्मी को लेकर सीएमओ डॉ. आशु पांडेय ने सभी अस्पतालो  के अधीक्षकों को अलर्ट मोड में रहने को कहा है। सभी सरकारी अस्पतालों में एक कोल्ड रूम बनाया गया है। ताकि गर्मी और लू के मरीजों का तत्काल इलाज शुरू हो सके। सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, सरकारी अस्पतालों में तैनात डॉक्टरों की छुट्‌टी रद्द कर दी गई है। सीएमओ ने अपने ऑफिस में कंट्रोल रूम बनाया है।  लखनऊ में 8 दिन से भीषण गर्मी पड़ रही है। आज भी पारा 45 डिग्री तक पहुंचने का अनुमान है। लू की स्थिति बनी है। हालांकि अगले 48 घंटों में गर्मी का असर कम होने के आसार हैं। लखनऊ में 3 दिन में 9 लोगों की मौत भी हो चुकी है। इसके पीछे गर्मी की वजह बताई जा रही है। लेकिन ज्यादातर की आधिकारिक पुष्टि नहीं है। मौसम विभाग के मुताबिक, अगले 48 घंटों में प्रदेश को लू से राहत मिल सकती है। वहीं 2 जून से नौतपा का प्रभाव भी खत्म हो जाएगा। हालांकि प्रदेश में रातें अभी गर्म बनी रहेंगी। नम हवाओं और गर्म हवाओं के टकराने से बादल बन सकते हैं। इससे दिन में सूरज की तपिश से लोगों को राहत मिल सकती है। प्रदेश में औसत अधिकतम तापमान हाईएस्ट48 घंटे के दौरान औसत अधिकतम तापमान 46 और न्यूनतम तापमान 29 डिग्री दर्ज किया गया। औसत अधिकतम तापमान अभी तक का सबसे अधिक दर्ज किया गया है। प्रदेश में 48 डिग्री के साथ बुलंदशहर सबसे गर्म शहर रिकॉर्ड किया गया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *