June 22, 2024

  • अंतिम 7 ओवरों में 110 रनों की नाबाद साझोदारी कर टीम को जिताया
    कानपुर। यशवर्धन सिंह और सिद्धार्थ सरवन यादव की विस्फोटक पारी की बदौलत गोरखपुर लॉयंस ने मेरठ मेवरिक्स को आठ विकेट पराजित कर लीग में अपने मुकाम को हासिल करने के लिए प्रयास जारी रखा। आज की जीत के साथ गोरखपुर का मनोबल बढ़ गया है। आज के मैच में गोरखपुर की टीम पूरी तरह से मरेठ पर हावी रही। मेरठ की टीम ने जहां 213 का विशाल स्कोर खड़ा अपने आपको सुरक्षित समझा था वहीं, गोरखपुर के मध्यम क्रम के बल्लेबाजों ने मेरठ के गेंदबाजों की धज्जियां उड़ाते हुए महज सात ओवरों में टीम को विजय प्राप्त करा दी। दोनों के बीच हुई 110 रनों की साझेदारी ने मेरठ के गेंदबाजों को धूल चटा दी। मेरठ के गेंदबाज 12वें ओवर के बाद विकेट लेने के लिए तरस गए। पहले खेलते हुए मेरठ ने स्वास्तिक चिकारा की शतकीय पारी की बदौलत 213 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया था। जिसे गोरखपुर के यशवर्धन सिंह ने 19वें ओवर की आखिरी गेंद पर छक्का मारकर हासिल कर लिया। मेरठ के स्टार खिलाड़ी रिंकू सिंह मैच में फ्लॉप रहे। यशवर्धन सिंह को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

यूपी टी-20 लीग के पांचवें दिन रविवार को दो मुकाबले खेले गए। पहला मुकाबला मेरठ मेवरिक्स और गोरखपुर लायंस के बीच हुआ। गोरखपुर ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया, और मेरठ को बल्लेबाजी करने को आमंत्रित किया। स्वास्तिक चिकारा ने तीसरे मैच में दूसरा शतक जमाया। क्रीज पर ओपनिंग करने विकेट कीपर शोएब सिद्दीकी और स्वास्तिक चिकारा आए। खेल के पांचवें ओवर में मेरठ को पहला बड़ा झटका मिला। शोएब सिद्दीकी (31) को अभिषेक गोस्वामी ने रन आउट कर दिया। उस समय टीम का स्कोर 38 रनों पर था। इसके बाद खेलने आए कप्तान माधव कौशिक ने 7वें ओवर में वासु वत्स की गेंद पर शिवम शर्मा को कैच दे दिया और बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गए। नौवें ओवर में ध्रुव प्रताप सिंह की गेंद पर विस्फोटक बल्लेबाज रिंकू सिंह (2) ने दिव्यांश चतुर्वेदी को कैच थमा दिया। 13वें ओवर की आखिरी गेंद पर सुनील कुमार की गेंद पर ओवैस अहमद (38) रन पर चलते बने। उन्होंने अब्दुल रहमान को कैच दे दिया। 16वें ओवर में अब्दुल रहमान की गेंद पर दिव्यांश जोशी (9) ने हवा में शॉट लगाया और वासु वत्स ने कैच लेकर उन्हें भी पेवेलियन की राह दिखा दी। 19 में ओवर में वासु वत्स की गेंद पर पूर्णाक त्यागी (12) ने स्टेट पर शॉट लगाने की सोची, मगर वासु ने उसे कैच पकड़ लिया। इसी ओवर की आखिरी गेंद पर वासु वत्स की गेंद पर यश गर्ग (4) ने उठाकर शॉट मारा लेकिन वहां मौजूद हर्षित सेठी ने कैच पकड़ लिया। मेरठ का आठवां विकेट स्वास्तिक चिकारा (101) के रूप में गिरा। अब्दुल रहमान की गेंद पर स्वास्तिक ने अभिषेक गोस्वामी को कैच दे दिया। स्वास्तिक ने 49 गेंद में सात चौके और आठ छक्कों की मदद से 101 रन बनाएं। विशाल चौधरी (10) और जमशेद आलम एक रन बनाकर नाबाद रहे। मेरठ ने 20 ओवर में आठ विकेट खोकर 213 रनों का बड़ा स्कोर बनाया। स्वास्तिक ने लीग में लगातार तीसरा शतक जमाया। वहीं, गोरखपुर की ओर से वासु वत्स ने सबसे ज्यादा तीन विकेट चटकाए।
जवाब में खेलने उतरी गोरखपुर लॉयंस की टीम से अभिषेक गोस्वामी और हर्षित सेठी पारी की शुरुआत करने आए। गोरखपुर को पांचवें ओवर की तीसरी गेंद पर पहला झटका लगा। पूर्णांक त्यागी की गेंद पर हर्षित सेठी (19) कट एंड बोल्ड आउट हो गए। इसके बाद यशवर्धन सिंह क्रीज पर आए। दोनों ही खिलाड़ियों ने स्कोर बोर्ड को आगे बढ़ाया। 12वें ओवर की 5वीं गेंद पर गोरखपुर का दूसरा विकेट कप्तान अभिषेक गोस्वामी (48) रन पर गिरा। इस समय टीम का स्कोर दो विकेट के नुकसान पर 104 रन पहुंचा था। वह लंबा शॉट मारने के चक्कर में पूर्णांक त्यागी को कैच थमा बैठे। अर्धशतक से दो रन से चूक गए। पारी के दौरान अभिषेक गोस्वामी ने 9 चौके मारे। इसके बाद सिद्धार्थ सरवन यादव क्रीज पर उतरे। दूसरी ओर से खेल रहे यशवर्धन सिंह सिंह ने तेजी से रन जुटाए। पहले उन्होंने अपना अर्धशतक मात्र 28 गेंद में पूरा किया, इसके बाद वह मेरठ के गेंदबाजों पर कहर बनकर टूट पड़े। 12वें ओवर की पांचवी गेंद पर गोरखपुर का दूसरा विकेट गिरने के बाद यशवर्धन सिंह और सिद्धार्थ सरवन यादव ने विजय लक्ष्य 214 जो असंभव लग रहा था। उसे महज 7 ओवरों में हासिल कर लिया। यशवर्धन ने अपनी पारी में 10 चौके और तीन छक्कों की मदद से 40 गेंदों पर नाबाद 81 रन बनाए। उनका साथ दे रहे सिद्धार्थ सरवन यादव ने 24 गेदों में 6 छक्कों और तीन चौकों की बदौलत नाबाद 61 रनों की पारी खेलते टीम को जीत दिलाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *