June 22, 2024

संवाददाता।
कानपुर।  पहाड़ों पर हो रही बारिश और बर्फबारी का असर अब उत्तर प्रदेश पर पड़ना शुरू हो गया है। यहां के कई शहरों का पारा तेजी से गिरने लगा है। बरेली में रविवार की रात इस सीजन की सबसे ठंडी रात रही। यहां का न्यूनतम तापमान 3.5°C तक पहुंच गया। इससे पहले भी यह रिकॉर्ड बरेली के ही नाम था। यहां का पारा 5.7 डिग्री तक गया था। वहीं, लखनऊ का तापमान 8.5°C, जबकि कानपुर का 5.7°C दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने 10 शहरों के लिए घने कोहने का अलर्ट जारी किया है। सीएसए यूनिवर्सिटी के मौसम विज्ञानी डॉ. एसएन सुनील पांडेय ने बताया, पूर्वी यूपी में बादल छाएंगे। धूप की गरमाहट का असर कम हो जाएगा। इससे दिन का तापमान तेजी से नीचे आने की संभावना है। 5 दिन बाद छाएंगे, लेकिन बारिश का पूर्वानुमान नहीं है। सोनभद्र, भदोही, वाराणसी, जौनपुर, गाजीपुर, मिर्जापुर, चंदौली, फतेहपुर, कौशांबी और प्रयागराज में घना कोहरा छाएगा। पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी का असर पूरे उत्तर प्रदेश में देखने को मिल रहा है। हर साल की तरह इस बार भी जनवरी में कड़ाके की ठंड पड़ेगी। दिन के तापमान में गिरावट के लिए लगातार कोहरा छाना जरूरी होता है। कोहरा बनने के लिए आर्द्रता अधिक होनी चाहिए। लेकिन बड़े पैमाने पर बारिश नहीं होने से आर्द्रता नहीं बढ़ सकी है। पश्चिमी विक्षोभ की स्थिति अभी जम्मू-कश्मीर से उत्तर की ओर बनी हुई है। पिछले 24 घंटे के दौरान बारिश और बर्फबारी भी हुई है। इसके चलते हरियाणा, राजस्थान, पंजाब एवं पश्चिमी यूपी के आसपास ठंड में तेजी से वृद्धि हो रही है। पूर्वी यूपी एवं बिहार के कई इलाकों के न्यूनतम तापमान में भी लगातार गिरावट जारी है। बीते 24 घंटे की बात करें तो न्यूनतम तापमान जहां बरेली का सबसे कम 3.5°C रहा, वहीं अधिकतम तापमान सबसे कम लखीमपुर खीरी का रिकॉर्ड हुआ। यहां अधिकतम तापमान 20°C दर्ज किया गया। हालांकि प्रदेश में बांदा का अधिकतम तापमान 27°C दर्ज किया गया, जो सबसे अधिक रहा। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related News