June 22, 2024

पाइप लाइन डालने के बाद सड़के खोदकर मौन बैठा जल विभाग।

संवाददाता।

उन्नाव। ज़िले के सिकंदरपुर कर्ण ब्लॉक के मझरापीपरखेड़ा के निहाल खेड़ा सहित दर्जनों गांवों में जल विभाग के आधे अधूरे विकास कार्य ने ग्रामवासियों को सड़क पर विरोध करने को मजबूर कर दिया है। यहाँ पर जल विभाग ने लोगो की सुविधा को ध्यान में रखते ह्यूज पाइपलाइन डालने के लिए सड़के तो खोद डाली, लेकिन अब काम पूरा होने के बाद जल विभाग इन सड़को को फिर से बंद करना भूल गया है। जल विभाग की इस गलती की वजह से यहाँ आये दिन लोग गिरते है और वे घायल भी हो जाते है। यहाँ के लोगो ने बताया कि यहाँ पर ये सड़के एक हफ़्ते के ज़्यादा समय से खुदी पड़ी हुई है, एक हफ़्ते पहले ही जल विभाग का सारा काम ख़त्म हो गया था, लेकिन अभी तक ये सड़के जो खोदी गई थी, वे दुबारा से भरी नहीं गई है। आलम ये है कि यहाँ के निवासी लोग ही स्वयं नाली सफाई सहित गढ़ों को पाटने में लगे हुए है, क्योंकि रात के अंधेरे में आये दिन कोई न कोई इन गड्ढों में गिर जाता है और चुटहिल हो जाता है। ये सड़को पर गड्ढे गाँव के लोगो के दैनिक जीवन को ख़तरे में डाल रहे है। यहाँ के एक निवासी ने बातचीत में बताया कि यहाँ हर दिन कोई न कोई घायल होता है। जल विभाग आया, सड़कें खोद दीं और गायब हो गया, और हमें गंदगी और खुदी हुई सड़को से निपटने के लिए छोड़ दिया। यहाँ के लोग सड़कों को फिर से चलने लायक बनाने की कोशिश में घंटों बिताने को मजबूर हैं। अगर गड्ढों को नहीं भरा गया, तो आने वाले समय में यह और गंभीर खतरा पैदा कर सकता है, खासकर मानसून के मौसम की शुरुआत के साथ, जो गड्ढों को कीचड़ को दुर्गम बाधाओं में बदलकर स्थिति को और खराब कर सकता है। लोगो ने कहा हम मांग करते हैं कि जल विभाग गड्ढों को भरने और हमारी सड़कों को बहाल करने के लिए तत्काल कदम उठाए। इस खबर से उन्नाव में हो रही जल विभाग की लापरवाही उजागर हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *