July 21, 2024

—– सोना-चांदी के उत्पादों पर टैक्स को लेकर व्यापारियों ने की चर्चा

कानपुर। सर्राफा व्यापार से जुडे कारोबारियों के राष्ट्रीय सम्मेेलन में सरकार की ओर से वसूले जा रहे टैक्स पर कई राज्यों के सर्राफा कारोबारियों ने अपने विचार रखे और उनको कम करवाने के लिए चर्चा भी की। 

ऑल इंडिया ज्वैलर्स एंड गोल्ड स्मिथ फेडरेशन के बैनर तले आज राष्ट्रीय ज्वैलर्स सम्मेलन आयोजित किया गया। शहर में पहली बार हो रहे इस तरह के सम्मेलन में कई राज्यों के सराफा कारोबारी शामिल हुए। सम्मेलन में ग्राहकों को शुद्ध सोना-चांदी की बिक्री, कारीगरों की ओर से सराफा कारोबारियों के साथ की जा रही ठगी को रोकने पर सुझाव दिए दिए गए। सोना-चांदी पर लग रहे भारी भरकम टैक्स को कम करवाने की मांग की गयी।  फेडरेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष पंकज अरोड़ा ने बताया कि कारोबारियों को होने वाले नुकसान से बचाने के लिए बीमा कंपनियों के अधिकारी भी बुलाए गए। सोने-चांदी में कस्टम और जीएसटी मिलाकर 18 प्रतिशत टैक्स की वजह से बढ़ रही कालाबाजारी रोकने पर भी मंथन किया गया। सम्मेलन में शामिल होने वाले सांसद प्रवीण खंडेलवाल के जरिए वित्तमंत्री को पत्र भेजा जाएगा। सुदूरवर्ती शहरों, कस्बों या गांवों में सोना-चांदी को पहुंचाने के लिए लॉजिस्टिक सुविधा उपलब्ध कराने पर चर्चा की गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related News