June 22, 2024

संवाददाता।
कानपुर। नगर में छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय, कानपुर ने एलएलबी और बीए एलएलबी के पेपर से नौ दिन पहले लॉ छात्र-छात्राओं को बड़ा झटका दिया। पांचवें सेमेस्टर की परीक्षाएं नौ अप्रैल से होने वाली है। इससे पहले कि कानपुर विश्वविद्यालय ने नोटिफिकेशन जारी करते हुए छात्र-छात्राओं को बताया कि जो पेपर ऑब्जेक्टिव होने थे वह अब सब्जेक्टिव होंगे। इससे छात्रों में आक्रोश व्याप्त है।छात्रों ने बताया कि शुरू से ही महाविद्यालय में पढ़ाई के दौरान बताया गया था कि सभी पेपर आब्जेक्टिव होने हैं, लेकिन पेपर से कुछ दिन पहले 30 मार्च को विश्वविद्यालय ने नोटिफिकेशन जारी कर बताया कि अब पेपर अब सब्जेक्टिव होंगे। यह देख सभी छात्र अचानक से परेशान हो गए। कुछ दिन पूर्व कानपुर विश्वविद्यालय में छात्रों ने आकादमी भवन के बाहर विरोध जताते हुए प्रदर्शन भी किया था और कुलपति से पत्र लिखकर पेपर ऑब्जेक्टिव कराने का मांग की थी। छात्रों ने कहा ऑब्जेक्टिव और सब्जेक्टिव पेपर को लेकर पढ़ाई में बहुत अंतर होता है। हम लोगों ने शुरू से ऑब्जेक्टिव को लेकर तैयारी कर रखी थी। अचानक से अगर सब्जेक्टिव आएगा तो इसका असर हम लोगों के परीक्षा परिणाम में पड़ेगा। इसको लेकर छात्रों ने कानपुर विश्वविद्यालय के कुलपति और कुलाधिपति तक को पत्र लिखकर ऑब्जेक्टिव कराने की अपील की है। कुलपति प्रोफेसर विनय कुमार पाठक ने कहा कि हम लोगों ने ही पेपर को ऑब्जेक्टिव कराने के लिए कहा था, लेकिन सभी महाविद्यालय के प्रिंसिपल ने कहा कि यह पेपर सब्जेक्टिव ही होने चाहिए, क्योंकि बहुत सी चीजें इसमें लिखने वाली होते हैं। विभाग के डीन से बात करने के बाद यह फैसला किया गया हैं। बच्चों की समस्याओं को देखते हुए सभी पेपरों में एक-एक दिन का समय भी दे दिया गया हैं। छात्र-छात्राओं ने कहा कि यदि पेपर सब्जेक्टिव होने है तो उसको लेकर हम लोगों को तैयारी करने का समय दिया जाए, नहीं तो इस वर्ष ऑब्जेक्टिव पेपर ही कराए जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *