?> श्रावण मास के चौथे सोमवार को शिव मंदिरों में भक्तों की लगी लंबी कतारें  » Azad Samachar

श्रावण मास के चौथे सोमवार को शिव मंदिरों में भक्तों की लगी लंबी कतारें 

संवाददाता।
कानपुर। श्रावण मास के चौथे सोमवार को, विभिन्न शिव मंदिरों में भक्तों की लंबी कतारें देखी गईं, जो उनके दर्शन करने और आशीर्वाद लेने के लिए उत्सुक हैं। भक्त अपनी प्रार्थनाओं के तहत जल अभिषेक, शिवलिंगों पर धतूरा, नीले फूल, बेल के पत्ते और बेल फल चढ़ाने जैसे अनुष्ठान कर रहे हैं। कानपुर शहर के प्राचीन मंदिरों में शिव भक्तों की भारी भीड़ देखी जा रही है। परमट में प्रसिद्ध श्री आनंदेश्वर मंदिर में विशेष रूप से भीड़ होती है, इस विशेष दिन पर लाखों भक्त दर्शन के लिए इकट्ठा होते हैं। भगवान शिव की एक झलक पाने के लिए भक्त पिछली रात से ही कतार में लगे हुए हैं। अन्य प्रमुख मंदिर जैसे शिवराजपुर में खेरेश्वर मंदिर, नयागंज में नागेश्वर मंदिर, माल रोड में खेरपति मंदिर, जाजमऊ में सिद्धनाथ मंदिर और शिवाला में कैलाशपति मंदिर में भी सुबह से ही भक्तों की भारी भीड़ देखी जा रही है। इस वर्ष का श्रावण मास इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि इसमें पुरुषोत्तम नामक एक अतिरिक्त मास (अधिक मास) जुड़ने के कारण यह 59 दिनों तक चलता है। इसके फलस्वरूप श्रावण मास में आठ सोमवार पड़ेंगे। पवित्र महीना 4 जुलाई 2023 को शुरू हुआ और 31 अगस्त 2023 को समाप्त होगा। भक्तों का मानना है कि इस पवित्र महीने के दौरान पूजा करने और व्रत रखने से उन्हें भगवान शिव का विशेष आशीर्वाद मिलता है। श्रावण मास के दौरान मनाया जाने वाला प्रदोष व्रत विशेष महत्व रखता है। इस वर्ष, दो या तीन से अधिक प्रदोष व्रत होंगे, जिससे भक्तों को दिव्य आशीर्वाद प्राप्त करने के अधिक अवसर मिलेंगे।जिला प्रशासन ने पुलिस के साथ मिलकर समारोह के सुचारू संचालन को सुनिश्चित करने के लिए विशेष व्यवस्था की है। नगर निगम, कानपुर विद्युत विभाग (केस्को), जल संस्थान और अन्य जैसे विभिन्न विभागों ने आवश्यक व्यवस्थाएं की हैं, और सुरक्षा और व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस बल ड्यूटी पर है। भक्तों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए मंदिरों की ओर जाने वाली सड़कों पर सीसीटीवी निगरानी स्थापित की गई है। जैसे-जैसे श्रावण का पवित्र महीना जारी है, भक्त भगवान शिव की दिव्य कृपा और आशीर्वाद पाने के लिए उत्साहपूर्वक उनकी प्रार्थनाओं और अनुष्ठानों में लगे हुए हैं। वातावरण “बम बम भोले” और “हर हर महादेव” के जयकारों से गूंज उठता है, क्योंकि भक्त शक्ति और शांति के परम अवतार भगवान शिव के प्रति अपनी भक्ति और श्रद्धा व्यक्त करते हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *