July 21, 2024

कानपुर। नगर में सोमवार सुबह तड़के हुई तेज बारिश ने शहर के मिजाज को बदल ही  दिया।  बारिश के चलते शहर के तमाम इलाके बारिश के पानी से जलमग्न हो गए सड़कें दिखाई देना बंद हो गईं, कई फुट पानी भर जाने से शहर के नगर निगम और जल निगम के कार्यों की पोल एक बार फिर से खोलकर रख दी। पानी की निकासी और चोक नालों ने पानी को सड़कों पर भरे रहने दिया और लोग बारिश में त्राहिमाम कर बीच जलजमाव में निकलने को मजबूर दिखायी दिए। कानपुर की सड़कों पर बारिश ने हाल बेहाल कर दिया, अभी ये मानसून की शुरुआत है जिस विभाग को मानसून से पहले तैयार होना चाहिए था वो विभाग अभी तक चैन के नींद सो रहा था। नगर निगम ने बहुत से प्लान बनाए थे लेकिन धरातल पर प्लान की हकीकत बरसात ने साफ कर दी और पोल खोल दी। कानपुर के परेड चौराहे ,यतीमखाना रोड, खलासी लाइन, जूही पुली, वीआईपी रोड  सभी पानी से पूरी तरह भर कर दरिया बन गई। सडकों को खोलने के लिए नगर निगम कि कर्मियों को दो से तीन घन्टों की मशक्कत करनी पडी। . एक ओर लोग भीषम गर्मी से परेशान थे लेकिन अब इस भारी बारिश के बाद लोग कई जगह लग रहे जलभराव से परेशान हो रहे हैं। हालांकि सुबह की बारिश के बाद मौसम में उमस बढ गयी और लोगों को पसीने से तरबतर रहना पड गया। मौसम वैज्ञानिक एसएन पांडे ने बताया कि आज बारिश 80 मिलीमीटर बारिश हुई है। आने वाले तीन दिनों तक लगातार बारिश  होती रहेगी। इस बारिश में जगह-जगह सड़कों पर भरे पानी ने विभाग की कार्यशैली पर कई सवाल खड़े कर दिए हैं। इस बारिश के बाद से दिन और रात ठंडक होने लगेगी। इससे मौसम तो सुहाना हो गया, लेकिन शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में कई घंटे बिजली गुल रही और जलभराव की समस्या से भी लोगों को एक बार फिर जूझना पड़ा।शहर की सड़कें पानी से भरने के चलते टापू बनी रही। महज कागजों तक सिमटी नालों की सफाई अब शहरवासियों के लिए एक बार फिर से मुसीबत बन गई । स्थिति यह रही कि बारिश होते ही सीसामऊ टेफ्को और परमट नाला सब उफना जाते हैं। सोमवार को हुई झमाझम बारिश के बाद ये नाले एक बार फिर से उफना गए। वीआईपी रोड पर घुटनों के ऊपर तक पानी भर गया। एक घंटे तक पानी भरा होने की वजह से दो घंटे तक जाम लगा रहा। लोगों को सडक पार करने के लिए भी खासी परेशानी हुई। सीसामऊ नाला शहर का सबसे बड़ा नाला है। इसकी सफाई भी ठीक से नहीं हुई है। नाले पर ही ग्वालटोली और खलासी लाइन में लोगों ने मकान बना लिए हैं। ऐसे में सिल्ट भर जाती है और इसे साफ करने में दिक्कत होती है। यही वजह है कि सोमवार को सुबह हुयी लगातार झमाझम बारिश के बाद नाला उफना गया। स्थिति यह आ गई कि कमर तक पानी भर गया और नाले के आसपास कई घरों और दुकानों में पानी घुस गया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related News