June 22, 2024

संवाददाता।
कानपुर। सुबह से ही प्रचंड गर्मी का अहसास लोगों को हो रहा है। नगर की जिन सड़कों पर सुबह से ही भीड़ नजर आती है, उन सड़कों पर सुबह से सन्नाटा पसरा हुआ है। रोड पर इक्का-दुक्का लोग ही नजर आ रहे हैं।आज दोपहर 3 बजे अधिकतम पारा 47°C दर्ज किया गया। ऑफिस या दोपहर में अन्य कामों को करने के लिए लोग कारों का ही इस्तेमाल कर रहे हैं। वहीं लखनऊ के बाद अब कानपुर में भी पंखे लगाकर ट्रांसफॉर्मर ठंडे किए जा रहे हैं। शहर का अधिकतम तापमान लगातार दूसरे दिन भी 47 डिग्री के पार जा चुका है। सुबह सात बजे से निकल रही धूप शाम पांच-छह बजे तक अपना असर दिखा रही है। स्थानीय मौसम विभाग के अनुसार अभी इस सप्ताह गर्मी से राहत मिलने की उम्मीद नहीं है। चार जून के बाद रेमल चक्रवात की वजह से बादल जरूर आ सकते हैं, लेकिन इससे उमस भरी गर्मी शुरू हो सकती है। रात को न्यूनतम तापमान एक डिग्री बढ़कर 31 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। सीएसए के मौसम विभाग प्रमुख डॉ. एसएन सुनील पांडेय ने बताया कि मानसून की गतिविधियां अभी तक अनुकूल हैं। उत्तर प्रदेश में 20 से 25 जून के बीच मानसून आने की संभावना है। डॉ. पांडेय के मुताबिक अगले 5 दिनों में इस भीषण गर्मी से राहत मिल सकती है। प्रचंड गर्मी में चरमराई बिजली व्यवस्था से त्राहिमाम मचा हुआ है। ओवरलोड ट्रांसफार्मर, केबल, एबीसी केबल, एचटी और एलटी सर्किट बार-बार फुंक रहे हैं। इस वजह से कहीं सात घंटे बिजली नहीं रही तो, कहीं पूरी रात। घर-दुकानों में लगे इन्वर्टर तक जवाब दे गए। लोगों ने घरों के बाहर हाथ का  पंखा डुलाते रात काटी। परेशान उपभोक्ता केस्को के हेल्पलाइन नंबर में धड़ाधड़ शिकायतें कर रहे हैं। एक्स पर एक्टिव यूजर्स पोस्ट कर भड़ास निकाल रहे हैं। बता दें, वर्तमान में शहर के 405 ट्रांसफार्मर ओवरलोड चल रहे हैं। बर्रा चार में एलटी सर्किट फुंकने से आपूर्ति ठप रही। ओवरलोड ट्रांसफार्मर के चलते चमनगंज, हर्षनगर, पशुपतिनगर, सैनिक नगर, इंद्रानगर, बारासिरोही, पी रोड, आचार्य नगर में काफी देर तक बत्ती नहीं आई। वहीं शहर में कुल 653 बार बिजली गई, जिसमें फॉल्ट और ट्रिपिंग शामिल है। अधिकतम लोड 686 मेगावाट गया, जबकि सप्लाई 23 घंटे 38 मिनट रही। प्रचंड गर्मी में चरमराई बिजली व्यवस्था से त्राहिमाम मचा हुआ है। ओवरलोड ट्रांसफार्मर, केबल, एबीसी केबल, एचटी और एलटी सर्किट बार-बार फुंक रहे हैं। इस वजह से कहीं सात घंटे बिजली नहीं रही तो, कहीं पूरी रात। घर-दुकानों में लगे इन्वर्टर तक जवाब दे गए। लोगों ने घरों के बाहर हाथ पंखा डुलाते रात काटी। परेशान उपभोक्ता केस्को के हेल्पलाइन नंबर में धड़ाधड़ शिकायतें कर रहे हैं। एक्स पर एक्टिव यूजर्स पोस्ट कर भड़ास निकाल रहे हैं। बता दें, वर्तमान में शहर के 405 ट्रांसफार्मर ओवरलोड चल रहे हैं। लेकिन केस्को आराम कर रहा है। बर्रा चार में एलटी सर्किट फुंकने से आपूर्ति ठप रही। ओवरलोड ट्रांसफार्मर के चलते चमनगंज, हर्षनगर, पशुपतिनगर, सैनिक नगर, इंद्रानगर, बारासिरोही, पी रोड, आचार्य नगर में काफी देर तक बत्ती नहीं आई। वहीं शहर में कुल 653 बार बिजली गई, जिसमें फॉल्ट और ट्रिपिंग शामिल है। अधिकतम लोड 686 मेगावाट गया, जबकि सप्लाई 23 घंटे 38 मिनट रही। केस्को एमडी ने मंगलवार रात को एक्सईएन, जेई और अन्य अधिकारियों की बैठक ली। उन्हें फॉल और ट्रिपिंग की समस्या होने पर तुरंत कार्रवाई करने को कहा गया। उन्होंने कहा कि उपभोक्ताओं की कॉल उठाई जाए। उन्हें क्षेत्र में आई समस्या के बारे में बताएं। कितना समय लगे, उसकी जानकारी दें। वहीं सबस्टेशनों का रात को भी निरीक्षण किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *