June 21, 2024

कानपुर। सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्मों पर वायरल हुए वीडियो मामले में गुजैनी थाने में 10 अप्रैल को दो मुकदमे दर्ज किए गये। जिसमें सबसे महत्वपूर्ण यह है कि एक मुकदमे में 10 ट्विटर अकाउंट यूजर के विरुद्ध मुकदमा है। यह जानकारी शुक्रवार को पुलिस उपायुक्त रविन्द्र कुमार ने दी।

  उन्होंने बताया कि जिसकी विवेचना प्रचलित है । गुण दोष के आधार पर शीघ्र ही विवेचना का विधिक नियंत्रण किया जायेगा। उल्लेखनीय है कि 10 अप्रैल को सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्मों पर एक वीडियो वायरल हुआ जिसे रतन लाल चौकी थाना गोविंद नगर का बताया जा रहा था । उक्त वायरल वीडियो के जांच के क्रम मे एक व्यक्ति जिसे उस वीडियो में मारा जा रहा था को तलाशा गया और उनसे पूछताछ की गयी तो ज्ञात हुआ की उक्त पीड़ित व्यक्ति का नाम रोहित द्विवेदी पुत्र सुरेश द्विवेदी  गुजैनी है। इनके द्वारा बताया गया की 3 महीने पूर्व हम सबके परिचित एक मित्र के बर्थडे पार्टी मे मेरी पंकज और उसके कुछ साथियो के साथ किसी बात को लेकर लड़ाई हो गयीं थी । उसी लड़ाई को केंद्र बिन्दु मानते हुए पंकज, विक्रम और उसके कुछ साथियों के द्वारा लगभग 2 महीने पूर्व मेरे साथ इन लोगों ने थाना गुजैनी के तात्या टोपे नगर के एक मकान मे मार पीट की, इनके द्वारा दिए गए तहरीर के आधार पर तत्काल प्रभाव से मुकदमा पंजीकृत किया गया।

इस संबंध में नामजद अभियुक्त पंकज ठाकुर व विक्रम सिंह व अन्य 3 अज्ञात को विवेचना के क्रम में तत्काल टीमें गठित कर अभियुक्त की तलाश की गई और पंकज ठाकुर निवासी कालिका नगर गोपाल पुर पतरसा थाना पनकी व अन्य प्रकाश में आये एक बाल अपचारी को गिरफ्तार कर पंकज ठाकुर उपरोक्त को न्ययालय के समक्ष पेश किया गया जहाँ से न्यायिक अभिरक्षा मे भेजा गया तथा बाल अपचारी को किशोर न्याय बोर्ड के सम्मुख प्रस्तुत कर बाल संरक्षण गृह भेजा गया। तथा उपरोक्त दोनों लोगों से अन्य कुछ साक्ष्य मिले है । जिन पर विवेचना प्रचलित है ।

   इसी क्रम मे कुछ समय बाद कुछ सोशल मीडिया यूजर्स के द्वारा बिना तथ्य को जाने एवं बिना किसी पुलिस अधिकारी के ऑफिशियल वर्जन लिए उक्त वायरल वीडियो को गलत तरीके से चौकी रतनलाल नगर थाना क्षेत्र गोविन्द नगर का बताते हुए ट्विटर (x) अकाउंट  एवं अन्य सोशल मीडिया पर भ्रामक तरीके से पुलिस की छवि खराब करने के उद्देश्य से प्रेषित की गई एवं एक जाति विशेष के मध्य में पुलिस के प्रति विद्वेष की भावना फैलाने का कुत्सित प्रयास किया गाया। इसको भी संज्ञान मे लेते हुए उपनिरीक्षक अनुराग सिंह की तहरीर के आधार पर 10 ट्विटर अकाउंट यूजर के विरुद्ध मुकदमा किया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related News