June 22, 2024

कानपुर। सीओ समेत आठ पुलिस कर्मियों की हत्या की घटना बिकरु कांड में पुलिस की कार्रवाई जारी है। गुरुवार को कोर्ट के आदेश पर प्रशासन और पुलिस की टीम ने आरोपित मनु पाण्डेय के घर की कुर्की की। हालांकि घर पर किसी प्रकार का सामान नहीं मिला और पुलिस ने घर को सील कर दिया। मनु पाण्डेय फिलहाल फरारी काट रही है। 

चर्चित बिकरू कांड के बाद पुलिस ने अगले ही दिन मुख्य आरोपी विकास दुबे के मामा प्रेम प्रकाश पाण्डेय जो बिकरु के ही रहने वाले थे, एनकाउंटर में मार दिया था। इसके बाद कई आरोपित एनकाउंटर में मारे गये जिसमें मुख्य आरोपी भी था। जिस दिन सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों को अपराधियों ने दौड़ा—दौड़ाकर हत्या की थी उस दिन फोन पर प्रेम प्रकाश पाण्डेय की बहू मनु पाण्डेय बराबर अपराधियों से बात कर रही थी और उनका सहयोग कर रही थी। इसकी जानकारी पुलिस को तब हुई जब मनु पाण्डेय के आडियो वायरल हो गये। जबकि पुलिस ने पहले मनु पाण्डेय को सरकारी गवाह भी बना दिया था। इसके बाद उसके खिलाफ चल रही विभिन्न विवेचनाओं के पश्चात गत 17 जुलाई 2023 को माती गैंगस्टर कोर्ट से पुलिस ने घटना में शामिल रही मनु के खिलाफ गैर जमाती वारंट हासिल किया था। वहीं 17 सितंबर 2023 को धारा 82 का आदेश भी पुलिस ने प्राप्त कर लिया था। इधर पुलिस द्वारा 14 मई 2024 को मनु की संपत्ति की कुर्की के आदेश प्राप्त किए जाते ही मनु कस्बा स्थित मकान में ताला बंद कर फरार हो गई। गुरुवार को उप जिलाधिकारी बिल्हौर रश्मि लाम्बा की मौजूदगी में राजस्व कर्मी व थाना प्रभारी रविंद्र श्रीवास्तव पुलिस टीम के साथ थाने के ठीक सामने स्थित मनू पाण्डेय के मकान पर पहुंचे और कुर्की की कार्रवाई की।

प्रभारी निरीक्षक रवींद्र श्रीवास्तव ने बताया कि जानकारी हो जाने से मनु घर का सारा सामान समेट कर पहले ही फरार हो गई है। मकान को सीज कर दरवाजे पर नोटिस चस्पा कर दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *