June 22, 2024

संवाददाता।

आज कानपुर में ‘अपना दल एस का पार्टी सम्मेलन चल रहा है, जिसकी अध्यक्षता पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल कर रही हैं। उन्होंने कार्यकर्ताओ और पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए आने वाले लोकसभा के चुनावी महासमर में एक योद्धा की तरह तैयार होने का समय आ गया है। हमे अपनी राष्ट्र की और सामाजिक जिम्मेदारियों का निर्वाह पूरी निष्ठा और ईमानदारी के साथ मे करना है। इस सम्मेलन को आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारी के तौर पर देखा जा रहा है। सम्मेलन में उनके साथ उनके पति और उत्तर प्रदेश के राज्य मंत्री आशीष पटेल भी शामिल हुए। सभा में सभी दलों के नेता शामिल हुए। अपना दल की स्थापना सोने लाल पटेल ने की थी, जो उत्तर प्रदेश में पिछड़े समुदायों की वकालत करने वाले एक प्रमुख नेता थे। दुर्भाग्यवश, कानपुर में एक सड़क दुर्घटना में उनकी जान चली गयी। उनके निधन के बाद पार्टी दो गुटों में बंट गई। अनुप्रिया पटेल को ‘अपना दल (एस)’ का राष्ट्रीय अध्यक्ष नियुक्त किया गया। कानपुर में पार्टी का यह सम्मेलन महत्वपूर्ण राजनीतिक मायने रखता है, क्योंकि कानपुर लोकसभा सीट एक प्रमुख वोट बैंक मानी जाती है, जहां ब्राह्मण समुदाय के अलावा 30 प्रतिशत से अधिक कुर्मी और ओबीसी वोट हैं। इस सभा का असर सीधे तौर पर कानपुर नगर और अकबरपुर दोनों लोकसभा सीटों पर पड़ेगा। पार्टी के इस सम्मेलन से सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को भी फायदा हो सकता है। कार्यक्रम किदवई नगर विधानसभा क्षेत्र के रत्नालय हॉल में हो रहा है। पिछले शुक्रवार को बीजेपी पार्टी अध्यक्ष भूपेन्द्र यादव ने बीजेपी के एक कार्यक्रम की अध्यक्षता की थी. उत्तर प्रदेश में आगामी चुनावी लड़ाई के लिए पार्टियों की तैयारी के बीच कानपुर के राजनीतिक घटनाक्रम पर कड़ी नजर रखी जा रही है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *