June 22, 2024

संवाददाता।
कानपुर। नगर में आज, पहल सामाजिक सेवा संस्थान, ने वनखंडेश्वर मंदिर में रुद्राभिषेक व भंडारे का आयोजन किया। संस्थान के अध्यक्ष अजय कुमार द्विवेदी ने बताया कि संस्थान प्रत्येक माह को एक भंडारे का आयोजन करता है इसके अलावा गरीब लड़कियों के विवाह हो या गरीब बच्चों की शिक्षा का विषय हो संस्थान का उद्देश्य उनकी सहायता करना है। आज यहां हम लोगों ने पहले बाबा का रुद्राभिषेक किया उसके बाद भंडारे का आयोजन शुरू हुआ  जिसमें सैकड़ो की संख्या में भक्तो ने और भूखे लोगो ने प्रसाद ग्रहण करा। यह एक पौराणिक स्थान है यहाँ पूजन करने के बाद एक ऊर्जा का अतिरिक्त संचार महसूस हो रहा है। ये पी रोड में स्थित वनखंडेश्वर मंदिर के बारे में यहां के महंत जिनकी पीढ़ियां गुजर गई और क्षेत्रीय बुजुर्ग  बताते है कि वनखंडेश्वर मंदिर नगर के साथ आस-पास के जिलों में प्रमुख शिवालयों के रूप में भक्तों की आस्था का केंद्र रहता है। श्रावण मास में दिनभर मंदिर में भगवान का विधिवत शृंगार पूजन किया जाता है।  वनखंडेश्वर मंदिर का इतिहास लगभग 250 वर्ष पुराना है। भक्तों में मान्यता है कि जिस स्थान पर वर्तमान में मंदिर है, वहां प्राचीन काल में घना जंगल था। यहां एक गाय आकर प्रतिदिन अपना दूध गिराती थी। इसके चलते इस स्थान पर खोदाई की गई, जिसमें शिवलिंग मिला। तब से इसे वनखंडेश्वर बाबा के नाम से पूजा जाने लगा। भक्त बताते हैं कि वनखंडेश्वर मंदिर नगर का इकलौता महादेव मंदिर है जहां शिवलिंग कक्ष के चारों ओर द्वार बने हैं। इससे आरती के दौरान हर द्वार से भक्त महादेव के दर्शन करते हैं। मंदिर में महादेव के साथ उनका परिवार विराजमान है। मंदिर में संकटमोचन हनुमान प्रभु के साथ श्रीकृष्ण सहित कई देवी-देवताओं की प्रतिमा स्थापित है। भक्त बताते है कि मंदिर में तीन पहर भगवान का चोला बदला जाता है। दिन में महादेव के रौद्र स्वरूप के दर्शन होते हैं। जबकि शयन आरती के बाद महादेव का विनम्र रूप होता है। कार्यक्रम में अजय कुमार द्विवेदी (अध्यक्ष), पंकज तिवारी (उपाध्यक्ष), पीयूष तिवारी (महामंत्री), राजीव दीक्षित (कोषाध्यक्ष), सुबोध गुप्ता ( मंत्री), आदित्य कुमार द्विवेदी, निर्भय प्रकाश रेजा (विधि सलाहाकार), राकेश त्रिपाठी, राहुल पोरवाल, रवि सक्सेना, अर्जित गुप्ता, राहुल शुक्ला आदि सभी लोग कार्यक्रम में उपस्थित रहे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *