?> शिवा की कहर बरपाती गेंदबाजी से काशी की अंतिम चार में पहुंचने की उम्मीदें बरकरार » Azad Samachar

शिवा की कहर बरपाती गेंदबाजी से काशी की अंतिम चार में पहुंचने की उम्मीदें बरकरार


कानपुर। उत्तर प्रदेश क्रिकेट प्रीमियर लीग T20 में काशी की अंतिम चार में पहुंचने की उम्मीद है अभी भी बरकरार हैं ।उन्होंने मेजबान कानपुर को एक संघर्षपूर्ण मुकाबले में चार रन से पराजित कर यह उम्मीदें बरकरार रखी। काशी की ओर से शिव सिंह ने अपनी कर बरपाती गेंदबाजी से कानपुर के बल्लेबाजों को बांधकर रख दिया ।उन्होंने चार ओवर में मैच 11 रन देकर दो बहुमूल्य विकेट झटक लिए। इसके बाद कानपुर की टीम विजय लक्ष्य तक नहीं पहुंच सकी। हालांकि कानपुर के गेंदबाजों ने इससे पहले अच्छी गेंदबाजी का प्रदर्शन करते हुए काशी को महज 148 रनों पर सीमित कर दिया था ।इसके बाद से यह लगने लगा था कि कानपुर के बल्लेबाजी इस विकेट पर आसानी से रन बना लेगी लेकिन शिव के साथ मोहम्मद शरिम 32 रन देकर तीन विकेट झटक कर कानपुर को पराजय झेलने पर मजबूर कर दिया। कानपुर की ओर से राहुल राजपाल ने शानदार 50 रन बनाए लेकिन इनिंग के पहले ओवर में ही झटका खाने के बाद बल्लेबाज दबाव में आ गए और नियमित अंतराल के बाद अपने विकेट गिरते
रहे ।संदीप तोमर 26 और समीर रिजवी 23 रन बनाकर कुछ संघर्ष करें इसके बाद प्रशांत चौधरी ने भी अंत में 24 रनों की पारी खेलकर टीम को जिताने का प्रयास किया लेकिन वह सफल नहीं हो सके ।पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित काशी ने पहले ही ओवर में सलामी बल्लेबाज अभिषेक शर्मा (1) को प्रशांत चौधरी के हाथों खो दिया। करण शर्मा (33) और शिवम बंसल (23) ने काशी  को शुरुआती झटके से उबरने में मदद की और पावरप्ले के अंत तक टीम को 50/1 पर पहुंचा दिया। कानपुर सुपरस्टार्स ने अपने स्पिन गेंदबाजों को बहुत प्रभावी ढंग से तैनात किया क्योंकि पावरप्ले के तुरंत बाद कार्तिकेय यादव ने करण शर्मा को आउट किया और जसमेर धनखड़ ने प्रिंस यादव और अच्छी तरह से स्थापित शिवम बंसल के विकेट लिए और काशी  को 81/4 पर संकट में डाल दिया। 12 ओवर में. कामिल खान (43) और अंकुर मलिक (17) ने मिलकर 46 रनों की महत्वपूर्ण साझेदारी की, जिसमें कामिल खान ने चार चौके और एक छक्का लगाया, 18वें ओवर में ऋषभ राजपूत द्वारा आउट होने से पहले। अंकुर मलिक प्रस्थान करने वाले अगले व्यक्ति थे, जिन्हें विनीत पंवार ने वापस भेजा, जबकि शिवा सिंह (14) ने केवल सात गेंदों में तेज पारी खेली। ऋषभ राजपूत ने शिवा सिंह और एम.शरीम के विकेट हासिल किए क्योंकि लगातार विकेट खोने और डेथ ओवरों में मारक क्षमता की कमी के कारण काशी 148/8 के स्कोर के बराबरी नहीं कर सका और चार रन से मैच कहां बैठा अपनी खतरनाक गेंदबाजी से मैच को जीतने के लिए शिव सिंह को मैन ऑफ द मैच के पुरस्कार से नवाजा गया । ऋषभ राजपूत और जसमेर धनकड़ क्रमशः 3/34 और 2/23 के आंकड़े के साथ कानपुर सुपरस्टार के लिए असाधारण गेंदबाज रहे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *