?> पत्नी और प्रेमी ने मिलकर सिक्योरिटी गार्ड पति को उतारा मौत के घाट। » Azad Samachar

पत्नी और प्रेमी ने मिलकर सिक्योरिटी गार्ड पति को उतारा मौत के घाट।

संवाददाता।
कानपुर।
नगर में पिछले चार दिनों से लापता सिक्योरिटी गार्ड का शव पड़ा मिला था। जिसमे पुलिस जांच में चौकाने वाले खुलासे हुए। गल्लामंडी में रहने वाले रविकांत पांडेय उर्फ नितिन (37 वर्ष) गुजरात में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करता था। 15 दिन पहले गुजरात से घर आया था। 1 सितंबर को रात में घर से लापता हो गया। नितिन के लापता होने के बाद मां शकुंतला, मौसा सुशील पांडेय, भाई समेत परिवार के अन्य लोगों ने पत्नी पर हत्या का शक जताया। परिवार के लोगों ने पुलिस को बताया कि प्रियंका के पति के दोस्त अनस समेत कई लोगों से संबंध हैं। इसी के चलते वह घर से अलग रहती है। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी। 3 सितंबर को हंसपुरम में नहर किनारे झाड़ियों में एक युवक का शव मिला। युवक की पहचान लापता नितिन के रूप में हुई। पीड़ित परिवार की तहरीर पर हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू की गई। पुलिस ने प्रियंका का फोन सर्विलांस पर लगाया। फिर हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। उसके बाद पुलिस ने प्रियंका के प्रेमी को भी गिरफ्तार कर लिया। नितिन और प्रियंका की शादी 2016 में हुई थी। दोनों के चुन्नू और मुन्नू दो बच्चे हैं। परिवार में जिम्मेदारी बढ़ने पर नितिन गुजरात में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करने चला गया। नितिन के घर पर न रहने पर उसके दोस्त अनस का घर में आना-जाना बढ़ गया। इसी बीच दोनों में नजदीकियां बढ़ गईं। मोहल्ले के लोगों ने प्रियंका और अनस के बीच अवैध संबंध की जानकारी नितिन को दी। इस पर करीब 15 दिन पहले नितिन वापस घर लौट आया। दोस्त से अवैध संबंध को लेकर उसका पत्नी से झगड़ा हुआ। उसने अनस का घर आना-जाना भी बंद करा दिया था। एडीसीपी साउथ अंकिता शर्मा के मुताबिक, प्रियंका ने बताया कि पति का दोस्त अनस हासमी मछरिया बरकाती मस्जिद के पास रहता है। पति घर पर नहीं रहते थे तो अनस अक्सर घर आ जाता था। इसी बीच मेरी अनस से नजदीकी बढ़ गई। हम दोनों एक-दूसरे से प्यार करने लगे थे। लेकिन पति इसका विरोध कर रहा था। इसलिए उसको रास्ते से हटाने का प्लान बनाया ताकि मैं अनस के साथ रह सकूं।अनस ने बताया कि मैं 1 सितंबर को शराब पिलाने के बहाने नितिन को अपने साथ ले गया। हम दोनों ने खूब शराब पी। घर वापस लौटते वक्त नितिन हंसपुरम नहर किनारे झाड़ियों के पास टॉयलेट करने के लिए रुका। तभी मैंने नितिन की गर्दन दबाई फिर सर्जिकल ब्लेड से उसका गला काट दिया। इसके बाद शव झाड़ियों में छिपाकर मैं वहां से निकल गया। अनस ने बताया कि हत्याकांड के बाद मैं सीधे नितिन के घर पहुंचा। वहां उसकी पत्नी और मैंने रात भर जश्न मनाया। इसके बाद मैं रातभर प्रियंका के घर ही रुका। दोनों ने बताया कि हमें लगा कि अब हमारे बीच कोई नहीं आएगा। इसलिए हम बहुत खुश थे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *